बैकलिंक क्या है ? What is Backlink In Hindi : Backlink kya hai

0
बैकलिंक क्या है What is Backlink In Hindi
बैकलिंक क्या है What is Backlink In Hindi

Backlink kya hai in Hindi : नमस्कार दोस्तों आज मैं अपको बताऊंगा कि बैकलिंक क्या है, Backlink Kaise बनाते है ? और किसी भी website या blog के लिए backlink कितना महत्वपूर्ण है. कई ब्लॉगर्स जिन्होंने हाल ही में कोई नया ब्लॉग या वेबसाइट बनायीं है, उन्हें समझने में थोड़ी दिक्कत होती है कि शब्द “बैकलिंक” का अर्थ क्या होता है। इन्ही सब सवालों के जवाबों के साथ मैं मनोहर आज अपको अपने hindi blog kya hai पर बिलकुल आसान शब्दों में समझाऊंगा की backlink kya hai और backlink का क्या काम होता है.तो आइये सबसे पहले जानते है बैकलिंक क्या है ? What is Backlink In Hindi.

बैकलिंक क्या है ? What is Backlink In Hindi

“बैकलिंक” Search Engine Optimization (SEO) की दुनिया में सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले शब्दों में से एक है।

Backlink kya hai in Hindi
Backlink kya hai in Hindi

जब किसी webpage या website के लिंक को किसी अन्य website से लिंक किया जाता है, तो इसे बैकलिंक कहा जाता है. साधारण भाषा में कहूँ तो जब मैं अपनी website का link किसी दूसरी website पर डालता हूँ तो इसे मेरी वेबसाइट का backlink कहा जाएगा. किसी भी वेबसाइट को सर्च इंजन में रैंक कराने के लिए backlink बहुत ही निर्णायक भूमिका निभाते है.

Backlink kya hai :

चलिए मैं आपको एक मजेदार उदाहरण देता हूँ backlinks को समझाने के लिए. आपने अक्सर सुना होगा जब दो जो व्यक्तियों में झगडा हो हो जाता है तो एक व्यक्ति बोलता है.

जानते नहीं हो मेरी पहुच ऊपर तक है. #backlink

इस पहुच को ही backlink कहते और इस ऊपर शब्द का तात्पर्य उसकी authority से है. यानि एक वेबसाइट का दूसरी वेबसाइट के साथ लिंक होने को backlink कहते है. तो दोस्तों आपको ये बात तो समझ में आ गयी होगी की Backlink kya hai. अब मैं आपको बताऊंगा backlink कितने प्रकार के होते है और किसी भी वेबसाइट के लिए कितने महत्वपूर्ण होते है.

Types of Backlink in Hindi : बैकलिंक के प्रकार

Backlinks मुख्यतः दो प्रकार के होते है. 1. Dofollow Backlinks 2. Nofollow Backlinks दोनों प्रकार के बैकलिंक्स अपनी-अपनी विशेषता रखते है आइये जानते है Dofollow और Nofollow Backlinks क्या है और इनका कार्य क्या होता है.

1# Dofollow Backlinks :

Google ने सन 2005 में Search Engine में spam link index को कम करने और सर्च इंजन के परिणामों को और बेहतर बनाने के उद्देश्य से Dofollow backlink की अवधारणा को लागु किया.

Dofollow backlink को Juicy links भी कहा जाता है. Dofollow links किसी भी वेबसाइट की SERP यानि कि Search Engine Ranking Position को को बढाने में मददगार होते है. Dofollow backlinks को समझें के लिए नीचे उदाहरण देखे उसके बाद मैं आपको दूसरे तरीके से समझाऊंगा Dofollow backlink क्या होता है.

<a href="http://mysite.com" rel="dofollow">My Site</a>
अथवा
<a href="http://mysite.com">My Site</a>
अथवा
<a href="http://mysite.com" rel="external">My Site</a>

अब आते है दुसरे तरीके पर : दोस्तों जैसे मैंने किसी दूसरी वेबसाइट पर अपना लिंक डाला उसके बाद जब Google या फिर किसी अन्य सर्च इंजन का robot उस वेबसाइट के links को crawl करता है तो #Dofollow का टैग robot को लिंक index करने की अनुमति देता है. यानि की जो लिंक मैंने दूसरी वेबसाइट पर डाला है उस लिंक को सर्च इंजन index कर लेगा. इसे ही dofollow backlink कहते है.

Benefits Of Dofollow Backlink :

  • Page rank को Improve करता है.
  • Blog या website की authority को Improve करता है.
  • Content की रैंकिंग को सर्च इंजन में बढाता है.

1# Nofollow Backlinks :

दोस्तों dofollow backlinks क्या होता है ये जानने के बाद आपको बहुत कुछ समझ में आ गया होगा कि nofollow backlinks क्या हुए. अगर नहीं तो फिर आइये जानते है Nofollow backlinks के बारे में.

Nofollow links juicy links नहीं होते है और इस प्रकार के backlink google या सर्च इंजन में index नहीं होते है. जब google या सर्च इंजन का robot किसी वेबसाइट पर विजिट करता है तो nofollow का टैग robot को उस लिंक को index करने से रोक देता है जो nofollow backlinks होते है. लेकिन इसका मतलब ये कतई नहीं है की nofollow backlinks किसी काम के नहीं होते है. nofollow backlinks भी वेबसाइट की रैंक को बढाने में सहायक होते है लेकिन ये dofollow backlinks के मुकाबले बहुत ज्यादा बेनिफिट नहीं देता है. लेकिन आप जब भी backlink बनाते है तो अपको dofollow के nofollow links भी बनाने चाहिए. क्यूंकि बहुत सी ऐसी अथॉरिटी वेबसाइट है जहाँ से nofollow links बनाने से आपको बहुत सारा ट्रैफिक मिलता है जो आपकी वेबसाइट के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है.

<a href="http://mysite.com" rel="nofollow">My Site</a>
अथवा
<a rel="nofollow" href="http://mysite.com">My Site</a>

Benefits Of Nofollow Backlink :

  • ट्रैफिक मिलता है
  • dofollow के साथ nofollow backlinks वेबसाइट को सतुलन देते है यह आपको ऐसे अपडेट से सुरक्षित रखता है जो आपको बैकलिंक्स बनाने के लिए penalize करते हैं.
  • DA, PA & अन्य Metrics को improve करने में सहायक होते है.
Dofollow और Nofollow backlinks में अंतर :

दोनों प्रकार के backlinks को समझने के बाद भी अगर आपके मन में कोई शंशय रह जाता है तो मैं इसे सामाजिक उदाहरण देकर समझाता हूँ.

  • Dofollow backlink ठीक उस प्रकार के सम्बन्ध होते है जैसे कि “मेरे चाचा विधायक है“. अब आपके पॉवर को समझने की आवशयकता नहीं है. निश्चित तौर पर आप के कुछ ना कुछ तो जलवे जरूर होंगे.
  • Nofollow backlinks “मेरे दूर के रिश्तेदार विधायक है” इस लाइन से स्पस्ट होता है कि ज्यादा जलवे तो नहीं होंगे लेकिन जरुरत पड़ने पर कुछ तो काम आ ही जायेंगे.

तो दोस्तों आपको बहुत कुछ तो समझ में आ ही गया होगा कि backlink kya hai और किसी भी वेबसाइट के लिए कितने महत्वपूर्ण होते है.

अब मैं आपको backlinks से जुड़े कुछ ऐसे टर्म के बारे में बताने जा रहा हूँ जिनके बिना backlink की जानकरी अधूरी रह जायेगी.और फैक्टर है

    1. Link Juice : जब किसी web page या वेबसाइट का लिंक आपके blog या वेबसाइट के किसी भी पेज या पोस्ट से लिंक होता है, तो वहां से link flow पास होकर आपकी वेबसाइट पर पहुँचता है इसे Link juice कहते है. Link juice किसी भी आर्टिकल या वेबसाइट को रैंक करने में सहायता देता है साथ ही इससे आपकी वेबसाइट की Domain Authority भी बढती है.
    2. High-Quality Links : High quality backlinks को Quality backlinks कहते है. किसी high DA, PA की वेबसाइट से लिया गया लिंक High-Quality Links कहलाता है. इस प्रकार के लिंक आपकी वेबसाइट की रैंक को boost करने में सहायक होते है. यदि ऐसी वेबसाइट से आपको nofollow backlink भी मिलता है तो भी ये आपकी वेबसाइट रैंक को बढाने में बहुत कारगर होंते है.
    3. Low-Quality Links : low-quality links ऐसे links होते है जो किसी spam site, automated या फिर porn वेबसाइट से बनाये गए links होते है. ऐसे links आपकी वेबसाइट के लिए बहुत ही ज्यादा खतरनाक होते है.
    4. Internal Links : Internal Links वो links होते है जो अपनी वेबसाइट के किसी पेज या आर्टिकल से अपनी ही वेबसाइट के किसी पेज या आर्टिकल को देते है इसे ही Internal Links कहते है. ज्यदार्टर ब्लॉगर ऐसे पोस्ट लिखते है जिसमे वो ज्यादा se ज्यादा internal links दे सके. इसके कई फायदे होते है पहला फायदा तो यह है कि यूजर आपकी वेबसाइट के कई सारी पोस्ट को पढता है दूसरा फायदा यह है इससे आपको एक बैकलिंक मिलता है, और तीसरा फायदा यह है आपकी Website Bounce Rate कम हो जाता है जो आपकी वेबसाइट की रैंकिंग को बढ़ने में सहायक होता है. इसका एक फायदा और है वो यह की आप इससे अपने मन का keyword use करके एक अच्छा सा backlink अपनी किसी भी पोस्ट को दे सकते है.
    5. Anchor Text : वह text जो hyperlinks के साथ प्रयोग होता है एंकर text कहलाता है. anchor text में अपने Keyword यूज़ करके backlinks बनाये जाते है. ये backlink बनाने का सबसे पोपुलर तरीका है और सबसे ज्यादा वर्क करता है. आप जब भी कही से backlink बनाये तो anchor text का प्रयोग जरूर करे.

Backlink Kaise बनाते है ?

दोस्तों अब तक आप पूरी तरीके से समझ गए होंगे Backlink kya hai ? अब मैं आपको बताऊंगा कि backlink कैसे बनाते है. दोस्तों मैंने अपनी कई पोस्ट में बताया है Learn and Earn. यदि आप इन्टरनेट पे अपना करियर बनाना चाहते है तो आपको बहुत ही धैर्य की बहुत जरुरत है और यह एक ऐसी लाइन है जिसमे आप सीखते-सीखते भी पैसा कमा सकते है.

इसलिए आप जब भी कोई बैकलिंक बनाते है तो उसे सर्च इंजन में index होने में 1 सप्ताह से लेकर एक महीने का समय लगता है. इसलिए धैर्य रखे आपकी वेबसाइट की रैंक धीरे धीरे ही increase होगी. तो आइये जानते है backlink कैसे बनाते है.

Backlink Kaise बनाते है ?
Backlink Kaise बनाते है ?

Backlink कैसे बनाते है ?

Apne blog/website ko google ke First Page Par lane में backlinks महत्चपूर्ण भूमिका निभाते है यदि backlinks बनाते समय google की सभी metrics का पालन किया जाए तो परिणाम आश्चर्य जनक रूप से  सामने आते है. तो आइये जानते है बैकलिंक्स कैसे बनाते है.

Comments Backlinks : इस प्रकार के लिंक किसी दूसरी वेबसाइट के पोस्ट पर कमेंट कर के बनाये जाते है. सामान्यतः इस प्रकार के backlink nofollow backlink की श्रेणी में आते है. लेकिन किसी na किसी रूप में आपकी वेबसाइट को फायदा पहुचाते ही है इसलिए कमेंट बैकलिंक्स बनाना भी बहुत जरूरी है.

Guest Post Backlinks : किसी दूसरी वेबसाइट के लिए पोस्ट लिखकर उसमे अपनी वेब्सिये या आर्टिकल का लिंक text anchor में दाल कर generate किये हुए links को guest पोस्ट बैकलिंक कहते है. गेस्ट पोस्ट करके बनाये हुए बैकलिंक अधिकतर dofollow backlinks होते है. इस प्रकार के बैकलिंक site की रैंक को सर्च इंजन में बहुत तेजी se ऊपर ले आते है.

Profile backlink : बहुत ऐसी वेबसाइट है जहाँ se अपको प्रोफाइल बैकलिंक मिलता है ये dofollow se लेकर nofollow होते है ऐसे बैकलिंक भी बहुत se काम के होते है और SERP को increase करने में मददगार होते है.

Internal backlinks : दोस्तों आप जब भी कोई आर्टिकल लिखे तो अपने अन्य पोस्ट का web पेज का लिंक जरूर दे मैं अपको पहले ही बताया है इस प्रकार के लिंक भी आपकी site की value बढाने के लिए बहुत अच्छा रोल निभाते है.

Dofollow और Nofollow Backlinks कैसे डिटेक्ट करे :

जब इतनी सारी जानकारी दे दी है तो इसको बता देना बहुत जरुरी है कि कैसे Dofollow और Nofollow backlinks का पता लगाये.

दोस्तों #backlink dofollow है या nofollow ये पता लगाना बहुत ही आसान है. इसके कई तरीके है लेकिन मैं अपको दो आसान तरीकों के बारे में बताऊंगा.

backlink kya hai : backlink in hindi

  1. पहला तरीका : दोस्तों पहला तरीका है आप अपने इन्टरनेट browser में एक extension install कर सकते है जिसका नाम है NoFollow extension बस अपको अपने browser का मेनू ओपन करना है उसके बाद add on में जाकर NoFollow extension सर्च करके इंस्टाल करना होगा उसके बाद आपको यह बड़ी आसानी के साथ पता चल जाएगा जहाँ से आप backlink बना रहे है वहां से आपको कैसा backlink मिलेगा.
  2. दूसरा तरीका : अगर आप extension नहीं इंस्टाल करना चाहते है तो यह तरिक firefox browser में काम करता है. अआप्को किसी भी लिंक को सेलेक्ट करना होगा सेलेक्ट करने के बाद राईट क्लिक करे उसके बाद view selection source पर क्लिक करना होगा. निचे इमेज में देखे .
    dofollow backlink kaise pata kare
    dofollow backlink kaise pata kare

    फिर आपको सेलेक्ट किये गए लिंक का source code मिल जाएगा जिससे आप आसानी से पता कर सकते है कि लिंक dofollow है या फिर no follow.

तो दोस्तों आशा करता हूँ आपको आज की जानकारी backlink kya hai, backlink kaise banate hai, dofollow backlink और nofollow backlinks में अंतर के साथ साथ backlink in hindi की पूरी जानकरी अच्छी लगी होगी.

LEAVE A REPLY