Independence Day speech In Hindi : स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

1

Independence Day speech In Hindi : सबसे पहले तो आप सभी पाठकों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें | आज का ये लेख स्कूलों में पढने वाले उन विद्यार्थियों के लिए है जो स्वतंत्रता दिवस पर भाषण देना चाहते है. साथ ही उन अभिभावकों के लिए भी जिनके बच्चों ने उनसे Independence Day speech लिखने के लिए आग्रह किया था. जैसा की हम सभी जानते है कि आज के दिन 15 august 1947 को देश आजाद हुआ था तब से लेकर आज तक हम प्रतिवर्ष 15 august को Independence Day मनाते है. और इस दिन देश के सभी विद्यालयों में रंगारंग कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये जाते है और इन सभी कार्यक्रमों की शुरुआत Independence Day speech In Hindi के साथ होती है. जैसा की पहले बताया की ये लेख विद्यार्थिओं के लिए है इसलिए मैंने इसे बहुत ही सरल भाषा में लिखने का प्रयास किया है जिससे की बच्चों को याद करने में ज्यादा दिक्कत न हो.

Independence Day speech In Hindi
Independence Day speech In Hindi

Independence Day speech In Hindi : स्वतंत्रता दिवस पर भाषण (15 August )

मेरे सभी आदरणीय अध्यापकगण, अभिभावक, मित्रों एवं यहाँ उपस्थित सभी लोगों को मेरी तरफ से स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनायें. जैसा कि हम सभी जानते है आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है क्यूंकि आज ही के दिन 15 अगस्त 1947 हमें आजादी मिली थी. और आज का दिन हम सभी भारतवासियों के लिए गर्व का दिन है. और आज का दिन उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को समर्पित है जिन्होंने अपनी जान देकर हमारे देश को आजाद कराया. आजादी क्या होती है ये पिंजरे में कैद उस पंक्षी को देखकर पता चल जाता है जो पिंजरे में कैद होकर खुले आसमान को निहारा करता है और बेबस होकर अपनी जिंदगी उसी पिंजरे में गुजर देता है.

आज हम अपनी बात कहने के लिए स्वतंत्र है, अपने मन की करने के लिए स्वतंत्र है हमें अभिव्यक्ति की भी आज़ादी है आज हम जो चाहे वो कर सकते है लेकिन एक ऐसा भी वक़्त था जब हम अंग्रेजों के गुलाम थे वो जो चाहते थे हमें मजबूरी में करना पड़ता था हमारे देश ने गुलाम रह कर बहुत सारी पीड़ा और अपमान को सहन किया. सन 1857 में सबसे पहले आजादी की क्रांति हुई जिसे अंग्रेजों ने असफल कर दिया और उसे असफल क्रांति भी कहा जाता है. पुरे 90 साल यानि की पूरी की पूरी 2 पीढ़ियों ने आजादी के संघर्ष किया और हजारों लाखों लोगों ने इस आजादी की लडाई में अपना योगदान दिया तब जाकर 15 अगस्त 1947 को देश आजाद हुआ.

भारत की आजादी के पहले दिन को याद करने के लिये हम हर साल 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाते है साथ ही साथ उन सभी महान लोगों याद करते है। जिनके कठिन संघर्षों की वजह से हम अपनी आजादी का उपभोग करने लायक बने है और अपनी इच्छा से खुली हवा में साँस से सकते है और उन्ही की बदौलत मैं आज यहाँ पर स्वतंत्रता दिवस पर भाषण दे रहा हूँ. मैं उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को ह्रदय से नमन करता हूँ.

Independence Day speech In Hindi : स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

भारत के कुछ महान स्वतंत्रता सेनानीयो में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस, बाल गंगाधर तिलक, चन्द्रशेखर आजाद, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरु, खुदीराम बोस, भगत सिंह, लाला लाजपत राय, अशफ़ाक उल्ला खाँ, राम प्रसाद बिस्मिल इत्यादि प्रमुख है। ये सभी महान देशभक्त थे जिन्होंने अपने जीवन की परवाह न करते हुए भारत की आजादी के लिये कड़ा संघर्ष किया। हम लोग हमारे पूर्वजों द्वारा किये गए संघर्ष के उन डरावने पलों की कल्पना भी नहीं कर सकते। आजादी के इतने वर्षों बाद भी आज हमारा देश विकास के सही राह पर है। आज हमारा देश पूरी दुनिया में लोकतांत्रिक देश के रुप में अच्छे से स्थापित है।

ब्रिटिश शासन की गुलामी से 15 अगस्त 1947 को भारत को स्वतंत्रता मिली इसलिए पूरे देश में लोग हर साल इस राष्ट्रीय उत्सव को पूरी खुशी और उत्साह के साथ मनाते है। ये सभी भारतीय नागरिकों के लिये एक महान दिन था जब भारतीय तिरंगे को भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु ने नई दिल्ली के लाल किले पर फहराया था।

हर वर्ष राजपथ पर एक बहुत बड़ा उत्सव मनाया जाता है जहाँ प्रधानमंत्री द्वारा झँडारोहण के बाद राष्ट्रगान गाया जाता है। राष्ट्रगान के साथ 21 बंदूकों की सलामी और हेलिकॉप्टर से तिरंगे पर फूलों की बारिश की जाती है। स्वतंत्रता दिवस के दिन राष्ट्रीय अवकाश होता है हालाँकि हर कोई इसको अपनी जगह से स्कूल, कार्यालय, या समाज में झंडा फहरा कर मनाता है। हमें भारतीय होने पर गर्व होना चाहिये और अपने देश के सम्मान की सुरक्षा के लिये अपना बेहतर योगदान देना चाहिये।

एक बार फिर सभी स्वतंत्रता सेनानियों को ह्रदय से अभिनन्दन करते हुए मैं अपनी Independence Day speech को विराम देता हूँ. जय हिन्द जय भारत. 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY