Root Kya hai ? Android phone root kaise Kare Fayde aur Nuksan

0
Root Kya hai ? Android phone root kaise Kare Fayde aur Nuksan
Root Kya hai ? Android phone root kaise Kare Fayde aur Nuksan

क्या आप जानते है Android phone Root kya hai? root ke fayde और nuksan kya है? और Android phone root kaise Kare. यदि नहीं तो आज मैं आपको android mobile root kya hota hai इसकी पूरी जानकारी आपको दूंगा. दोस्तों आप जो smartphone यूज़ करते है उसका एक operating system होता है. ठीक इसी प्रकार से Android भी एक Linux based operating system है और लगभग सारे smartphone में Android mobile operating system का ही प्रयोग होता है. कुछ एक smartphones को छोड़ कर जैसे एप्पल और विंडोज फ़ोन. दोस्तों इसी operating system के रूट के access को प्राप्त करना ही “Root” कहलाता है. आइये विस्तार से जानते है Root kya hai :

Root Kya hai? What Is Android mobile Root in hindi

Root kya hai : किसी भी एंड्राइड फ़ोन को रूट करने को “jailbreaking” भी कहा जाता है. Rooting एक ऐसा process है जिसकी सहायता से यूजर को Android phone के operating system का पूरा एक्सेस मिल जाता है. जिसकी सहायता से यूजर ना सिर्फ restricted features को access कर पाते है बल्कि रूट की सहायता से पुराने एंड्राइड फ़ोन की परफोर्मेंस जैसे मोबाइल की ROM, बैटरी बैकअप इत्यादि को भी बढाया जा सकता है. एंड्राइड फ़ोन को रूट किये बिना operating system में कोई भी बदलाव नहीं किया जा सकता है. इसके लिए फ़ोन को रूट करना बहुत जरुरी होता है. किसी भी Android phone को रूट करना जितना फायदेमंद साबित हो सकता है उतना ही खतरनाक भी.

“किसी mobile phone के operating system के रूट के access को प्राप्त करना ही “Root” कहलाता है.”

Root kya hai ये आप समझ ही गए होंगे आइये अब जानते है android root ke fayde और nuksan के बारे में.

Root ke fayde : Benifits of Rooting Android Phone

किसी भी Android phone को Root करने के बहुत सारे फायदे है मैं आपको एंड्राइड रूट करने के सारे फायदों के बारे में विस्तार से बताऊंगा.

  1. Delete Pre-Installed Apps: रूटिंग की सहायता से आप एंड्राइड फ़ोन में पहले से Pre-installed apps (blotware) को uninstall कर सकते है. जो आपके लिए फ़ोन को बिना रूट किये संभव नहीं है. इससे आपको फायदा यह होगा कि आप अपने फ़ोन से बेकार के application को फ़ोन से uninstall कर सकेंगे जिससे आपके मोबाइल में मेमोरी स्पेस भी बढ़ जाएगा. और आपके फ़ोन का परफोर्मेंस और भी बेहतर हो जायेगा.
  2. non-Compatible Apps Install कर सकते है : इन्टरनेट पर बहुत सारी ऐसी application भी उपलब्ध है जो आपके देश में प्रतिबंधित होती है या फिर स्पेसिफिकेशन की पाबन्दी के कारण आपका फ़ोन उन application को इनस्टॉल करने के योग्य नहीं होता है. ऐसी कंडीशन में Android root करके आप सभी restriction को बाईपास करते हुए ऐसी Android apps को आसानी के साथ इनस्टॉल कर उनका मज़ा ले सकते है. इसके अलावा आप mode applications, modegames इत्यादि का भी आनंद उठा सकते है.
  3. Fast Software Update : कोई भी कंपनी जो smartphone बनाती है फ़ोन के सॉफ्टवेर को पब्लिक के लिए रिलीज़ करने से पहले उसे test करती है. इसलिए smartphone कंपनी की ऑफिसियल वेबसाइट पर ROM Update पहले से ही उपलब्ध रहता है. जिन लोगों का फ़ोन रूट होता है वो इसे डाउनलोड कर सकते है. इसलिए रूटेड यूजर को यह फायदा होता है कि उन्हें updates पहले ही मिल जाते है.और अगर यूजर चाहे तो कंपनी को सुझाव भी दे सकता है कि वो इसमें बेहतरी के लिए क्या बदलाव का सकते है.
  4. Custom ROM Install कर सकते है : बहुत सारे लोग अपने android phone में Custom ROM install करने के लिए ही root करते है. Custom ROM install करने से smartphone का यूजर इंटरफ़ेस पूरी तरह से बदल जाता है. मार्किट में अलग अलग functionalities और लुक्स के साथ Custom ROM उपलब्ध है. यूजर अपनी पसंद और फीचर के हिसाब से ROM को सेलेक्ट कर इनस्टॉल कर सकते है. ऐसा करने से आपके फ़ोन का लुक और फंक्शन पूरी तरह से बदल जाता है.
  5. Full Device Backup ले सकते है : Android Device को रूट करना का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप कभी भी अपने मोबाइल का पूरा बैकअप ले सकते है और जब चाहे आप backup restore कर सकते है. हालाँकि unrooted फ़ोन में आप full device backup ले सकते है लेकिन उसमे कुछ ना कुछ फाइल्स मिस हो जाती है. जबकि rooted फ़ोन में ऐसी समस्या नहीं आती है. आप Titanium backup app की सहायता से आप अपने rooted फ़ोन का backup आसानी के साथ ले सकते है.

Android Root के नुकसान : Disadvantage of Rooting Android

हर क्रिया की प्रतिक्रिया होती है कहने का तात्पर्य जहाँ Android Root करने के इतने सारे फायदे है वही इसके बहुत सारे नुकसान भी है. हमने फायदों के बारे में तो जान लिया आइये अब जानते है एंड्राइड रूट करने के नुक्सान क्या क्या है?

  1. Phone की warranty ख़त्म हो जायेगी : Android phone को रूट करने से आपके फ़ोन की warranty ख़तम हो जायेगी. लेकिन फिर आपके पास एक तरीका है warranty को वापस पाने का और वो तरीका है phone को unroot करने का. जी हाँ आप जब चाहे अपने फ़ोन को unroot कर सकते है और service center वालों को पता भी नहीं चलेगा की phone root किया गया था.
  2. Phone खराब भी हो सकता है : Rooting के दौरान एक भी गलत स्टेप आपके फ़ोन को ख़राब भी कर सकता है. यदि आप कंप्यूटर की मदद से अपना फ़ोन रूट कर रहे हो तो आपको इसकी पूरी जानकारी ले लेनी चाहिए. फ़ोन को सुरक्षित रूट करने के लिए एंड्राइड एप का स्तेमाल करना चाहिए क्यूंकि एप की सहायता से phone root करना बहुत आसान है.
  3. Performance पर पड़ सकता है असर : लोग अपने फ़ोन की परफॉरमेंस बढ़ने के लिए ही android phone root करते है. हालाँकि अधिकतर यूजर रूटिंग के बारे में नहीं जानते है इसलिए एक गलत स्टेप भी फ़ोन की परफॉरमेंस को स्लो कर सकता है. डिवाइस को रूट करना या ना करना इस बात पर निर्भर करता है कि आप अपने फ़ोन से क्या चाहते है. यदि एप एडवांस्ड यूजर है तो आप root का आप्शन चुन सकते है. लेकिन अगर आप phone root  करने को लेकर आश्वस्त नही है तो आपको इससे बचना चाहिए.

Android phone को कैसे Root करे : How to Root Android Phone

किसी भी Android phone को root करने के दो तरीके होते है. पहला तरीका computer या laptop की मदद से और दूसरा तरीका है android application की सहायता से. दोनों ही process काफी आसान है. मैं आपको दोनों process बताऊंगा आपको जो तरीका आसान लगे आप उस process के माध्यम से अपना फ़ोन रूट कर सकते है. आइये सबसे पहले जानते है computer या laptop की मदद से android phone root kaise kare.

Computer या Laptop की मदद से android phone ko root kaise kare ?

computer या laptop की मदद से android phone root करने के लिए आपको एक application की जरुरत पड़ेगी उस application का नाम है kingoroot.

  • सबसे पहले अपने अपने laptop या computer में kingoroot application डाउनलोड करके इनस्टॉल कर ले.
  • इंस्टाल करने बाद App को ओपन करे. App ओपन करने के बाद आपको अपना फ़ोन USB केबल की सहायता से लैपटॉप में कनेक्ट करना होगा.
  • फ़ोन को कनेक्ट करने के साथ साथ अपने फ़ोन में usb debugging का आप्शन on कर ले.
  • USB debugging on करने के लिए सबसे पहले SETTING में जाए उसके बाद Developers में जाए वहां आपको usb debugging का आप्शन मिल जाएगा.
  • यदि आपका फ़ोन पुराना है तो Developers का आप्शन Setting >> application में मिलेगा.
  • यदि Setting >> application में भी Developers का आप्शन नहीं मिलता है तो Setting >> About Phone में जाए.
  • वहां आपको Build का option मिलेगा. आपको Build के option पर 4-5 बार क्लिक करना है. ध्यान रहे आपको प्रत्येक क्लिक 3-4 सेकंड्स के लिए के लिए करना होगा. इसके बाद आपको आपको Setting में Developers का आप्शन मिल जाएगा.
  • अब आपको Developers में जाना होगा वहां आपको USB debugging का आप्शन मिल जाएगा. इसे on कर दे.
  • इसके बाद आपको फ़ोन usb software install करने के लिए तैयार हो जाएगा. अब आप software को फ़ोन में इनस्टॉल होने की परमिशन दे दे.
  • इनस्टॉल होने के साथ ही रूट का आप्शन फ़ोन में दिखाई देगा इस पर क्लिक करे. इसके साथ ही phone root होने का process चालू हो जाएगा.
  • इसके बाद आगे के प्रोसेस को पढ़ कर पूरा कर ले. जैसे ही rooting process पूरा हो जाएगा आपके सामने फिनिश लिख कर आ जायेगा और आपका फ़ोन रूट हो जायेगा.

ये तो हुआ computer/laptop की मदद से android mobile phone root करने का process. अब Android app की मदद से android mobile phone root karne ka process जानेंगे.

App की सहायता से Android phone root kaise Kare

Android phone को रूट करने की बहुत सारी application है जिनमे adblock plus, FramaRoot, Root Genius, quick reboot,  kingroot apk और kingoroot बहुत ही ज्यादा फेमस है. आप इनमे से कोई भी application डाउनलोड कर अपने mobile phone को root कर सकते है. इन android application के माध्यम के android mobile phone root करना बहुत आसान है और फ़ोन को रूट करने का process भी लगभग एक जैसा जैसा है.

Android phone root kaise Kare
Android phone root kaise Kare
  • सबसे पहले तो आप अपने android mobile phone में kingroot apk download कर ले.
  • डाउनलोड करने के बाद app को अपने फ़ोन में install कर ले.
  • App को open करे. Open करने के बाद आपको “Try It” या “Try To root” का option मिलेगा. आपको इस आप्शन पर क्लिक करना है.
  • “Try It” पर क्लिक करने के बाद दूसरा पेज ओपन होगा जिसमे “Get now”आप्शन पर आपको क्लिक करना है.
  • “Get now” पर क्लिक करते ही आपका android phone root चालू हो जाएगा.
  • जैसे ही आपका android phone root हो जायेगा आप मेन screen पर पहुच जायेंगे.
  • अब आपको बस ये चेक करना होगा आपका android phone root हुआ है या नहीं.
  • इसके लिए आपको playstore से “rootchecker” app download करना होगा. जैसे ही आप app को चालू करेंगे आपको “your device is rooted” का मेसेज दिखाई देगा. यानि की आपका android phone root हो चूका है.

Mobile Phone को Unroot कैसे करे : 

यदि आप किन्हीं कारणों से अपने rooted mobile phone को unroot करना चाहते है तो आप बड़ी आसानी के साथ अपना mobile phone unroot कर सकते है. Mobile phone unroot करने के लिए आपको उस application में जाना होगा जिसकी सहायता से आपने अपने फ़ोन को रूट किया है.

  • App को ओपन करने के बाद app की सेटिंग में जाना होगा.
  • सेटिंग में आपको आपको एक आप्शन uninstall kingroot का मिलेगा. आपको uninstall kingroot पर क्लिक करना होगा.
  • Uninstall kingroot पर क्लिक करने बाद एक popup खुलेगा जिसमे आपको Continue पर क्लिक करना होगा.
  • Continue पर क्लिक करते ही app उनिन्स्ताल हो जायेगी और आपका mobile phone unroot हो जाएगा.

Android phone root करने में बरते सावधानियां

दोस्तों अगर आप अपना android phone root karna चाहते है तो आपको कुछ सावधानियां भी बरतनी चाहिए ताकि आपको बाद में किसी भी प्रकार की दिक्कत ना हो.

  • जब भी फ़ोन को रूट करे तो आपके mobile की battery कम से कम 80-90% तक चार्ज होनी चाहिए.
  • Android phone root करने से पहले अपने जरुरत की चीजें जैसे contacts, messages, image, videos or जरुरी documents का बैकअप बनाकर किसी दूसरी डिवाइस में सेव कर ले.

तो दोस्तों आशा करता हूँ root kya hai, root ke fayde और nuksan क्या है और android phone ko root kaise kare की जानकारी आपको अच्छी लगी होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here