Veterinary Doctor course कर बने पशु चिकित्सक

Veterinary Doctor course karna hai
Veterinary Doctor course karna hai

Veterinary Doctor course: जानवरों से लगाव तो हर किसी को होता है किसी को कम तो किसी को बहुत ही ज्यादा. यदि आपका जानवरों के प्रति प्रेम बहुत ज्यादा है और आप उनकी मदद करना चाहते है तो आपका यह शौक पशु चिकित्सक बनकर बहुत ही आसानी से पूरा हो हो सकता है जहाँ आप जानवरों की मदद के साथ साथ अपना करियर भी बना सकते है. आज के इस career in hindi लेख में हम आपको Veterinary Doctor course की पूरी जानकारी देने जा रहे है.

भारत में पुरे विश्व के अन्य देशों की टूना में सबसे ज्यादा पहु पाए जाते है. एक रिसर्च के अनुसार इस समय भारत में पशुओं की संख्या 50 करोड़ के आस पास है जबकि वेटरिनरी डॉक्टर इसकी तुलना के अनुसार काफी कम है. गत कुछ सालों से जानवरों में होने वाली जानलेवा बीमारियों ने इस क्षेत्र में सरकार का ध्यान आकर्षित किया है. सरकार ने इस दिशा में काफी उपयोगी कदम उठाये है जिससे इस क्षेत्र में काफी नौकरियां पैदा हुई है.

Veterinary Doctor course karna hai

यदि आप वेटरिनरी कोर्स कर पशु चिकित्सक के तौर पर अपना करियर बनाना चाहते है तो आप दो साल का डिप्लोमा करके अपना यह सपना पूरा कर सकते है. वेटेरिनरी साइंस के अंतर्गत आप Diploma in Veterinary pharmacy course या Diploma in Veterinary & livestock Development Assistant का दो साल का कोर्स कर के veterinary pharmacist बन सकते है.

पशु चिकित्सक का कार्य :

एक पशु चिकित्सक पशु पंक्षियों की बीमारी का पता लगा कर उनका इलाज करता है. इस इलाज में जानवरों का टीकाकरण, सर्जरी या आपरेशन, रोग पहचान और उनके उपचार के साथ साथ पालतू पशुओं की देखभाल से जुडी सलाह इत्यादि जैसे कार्य शामिल है. पशु चिकत्सा विज्ञान और मानव चिकित्सा विज्ञान में बहुत कुछ समानता है लेकिन पशु पक्षियों द्वारा अपनी परेशानी ना बता पाने की वजह से यह चिकित्सा विज्ञान मानव चिकत्सा विज्ञान से थोड़ी जटिल है.

पशु चिकित्सक के गुण :

  • किसी भी पशु चिकित्सक का संवेदन शील होना बहुत जरुरी है. यह गुण veterinary doctor का प्रमुख गुण माना जाता है.
  • पशु चिकित्सक का पशु प्रेमी भी होना बहुत जरुरी है क्यूंकि पशु पक्षियों से प्रेम होने पर ही चिकित्सक उनकी परेशानियों को उनके हाव भाव से आसानी से समझ सकता है.

Veterinary Doctor career में संभावनाएं :

पशु चिकित्सा में भी करियर की बहुत अच्छी सम्भावनाये है. ग्रामीण क्षेत्र में जहाँ पालतू जानवर जैसे गाय, बकरी, भेंड, भैस इत्यादि के इलाज के लिए लोग जहाँ पशु चिकित्सक का रुख करते है वही शहरी इलाकों में पालतू पशु के इलाज के लिए पशु चिकित्सक के पास जाते है. पशु चिकित्सक सरकारी तथा गैर सरकारी, veterinary hospital, एनिमल हसबैंड्री डिपार्टमेंट पोल्ट्री फॉर्म, डेरी इंडस्ट्री, मिल्क एंड मीट प्रोसेसिंग इंडस्ट्री तथा एनिमल बायोटेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भी कार्य कर अपना करियर बना सकते है.

Veterinary courses:

Veterinary course में career बनाने के लिए अभ्यर्थी Veterinary Science में बैचलर डिग्री के साथ साथ डिप्लोमा, मास्टर डिग्री और पीएचडी स्तर के course  भी कर सकते है. जिनमे से प्रमुख Veterinary course निम्न प्रकार से है.

  • बैचलर ऑफ वेटरनरी साइंस एंड एनिमल हस्बैंड्री (कोर्स =5 वर्षीय डिग्री)
  • डिप्लोमा इन वेटरनरी फार्मेसी (कोर्स = 2 वर्षीय डिप्लोमा)
  • मास्टर ऑफ वेटरनरी साइंस (कोर्स = 2 वर्षीय डिग्री)
  • पीएचडी इन वेटरनरी साइंस (कोर्स = 2 वर्षीय डिग्री)

यह भी पढ़ें :

Veterinary course करने के लिए योग्यता :

वेटनरी साइंस में बैचलर डिग्री कोर्स करने के लिए प्रतिभागी को 12th में फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषयों से न्यनतम 50 प्रतिशत अंको से पास होना जरूरी है सस्थ ही प्रयोगी की उम्र 18 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए.

Veterinary course में Admission कैसे मिलेगा:

वेटनरी साइंस में बैचलर डिग्री कोर्स में एडमिशन लेने के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित की जाती है. हर साल मई और जून में VCI (वेटनरी काउंसिल ऑफ़ इंडिया) प्रवेश परीक्षाएं आयोजित करता है. भारत के प्रत्येक राज्य में इसकी प्रतियोगी परीक्षा आयोजित होती है जिसमे अन्य राज्य के लिए 15% सीटें रिजर्व रहती है तथा 85% सीटें उस राज्य के प्रतिभागियों के लिए होती है जिस राज्य में वो इंस्टीट्यूट है।

सैलरी कितनी मिलेगी :

Veterinary doctor course कम्पलीट करने के बाद आप चाहे तो सरकारी hospital में job के लिए अप्लाई कर सकते है यदि आपको सरकारी नौकरी मिल जाती है तो को प्रति माह 50 से 60 हजार की job मिल सकती है. इसके अलावा प्राइवेट क्लीनिक खोल कर के भी आप न्यूनतम प्रतिमाह 15-20 हजार रूपये कम सकते है.

प्रमुख शिक्षण संस्थान :

  • दिल्ली पैरामेडिकल एंड मैनजमेंट इंस्टिट्यूट, नई दिल्ली
  • पंडित दीं दयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय, उ.प्र
  • इंडियन वेटरनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट, बरेली यूपी
  • बिहार वेटरनरी कॉलेज, पटना
  • नेशनल डेयरी रिसर्च इंस्टीट्यूट, करनाल
  • इंडियन वेटरनरी रिसर्च इंस्टीट्यूटस कोलकाता
  • खालसा कॉलेज ऑफ वेटरनरी एंड एनिमल साइंसेज, पंजाब
  • कॉलेज ऑफ वेटरनरी एंड एनिमल सांइस, बिकानेर
  • मद्रास वेटरनरी कॉलेज, चेन्नई
  • आनंद एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, आनंद, गुजरात

यह भी पढ़ें :

दोस्तों आशा करता हूँ करियर इन हिंदी के Veterinary Doctor course कर बने पशु चिकित्सक लेख की जानकारी आपको अच्छी लगी होगी. आप कमेंट में अपनी राय हमें दे सकते है.

1 COMMENT

  1. […] सके. इस योजना से पशु चिकित्सा यानि कि वेटरिनरी डॉक्टरों के सहयोग से गाय की नस्ल में सुधार किया […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here