Business Tips in Hindi : सफल व्यापर के सूत्र

2
business-tips-hindi
business-tips-hindi

यदि आप कोई Business करते है या कोई नया व्यापार शुरू करने जा रहे है तो इन Business Tips in Hindi को हमेशा ध्यान में रखे क्यूंकि ऐसे ideas हमें हमारे व्यवसाय को बढाने में मदद करते है.

कभी कभी हम ऐसी गलतियाँ अपने Business में कर जाते है जिसका पछतावा हमें बाद में बहुत होता है | मेरे एक जाननें वाले ने मुझे एक बहुत अच्छी बात बताई थी की “ना बेच कर पछताने से बेहतर है कि बेच कर पछताया जाए“. क्यूंकि आपने ग्राहक को कुछ बेचा है तो अपने कुछ न कुछ जरूर kamaya होगा चाहे वो कम ही क्यों न हो और न बेच कर कुछ न कुछ गवाया ही होगा. ऐसी बहुत सी बातें है जिन्हें हम नज़रन्दाज कर देते है और अनजाने में ही अपना नुकसान करते है. क्यूंकि बूँद बूंद से ही सागर भरता है. तो आइये जानते है क्या है वो Business Tips in Hindi.

Business Tips in Hindi :

business tips hindi
business tips hindi

Tips 1. व्यव्हार कुशल बने.

यदि आप अपने व्यापार को सफलता की ओर ले जाना चाहते है तो सबसे पहले अपने व्यवहार में परिवर्तन लाये. ग्राहक से प्रेम व्यवहार बनाये रखे साथ ही ग्राहक पर कभी अनावश्यक दबाव न डाले जिससे की ग्राहक के मन में आपके प्रति अविश्वास की भावना पैदा हो. ग्राहक से आपका रिश्ता जितना मजबूत होगा आपके व्यापार की बुनियाद भी उतनी ही मजबूत होगी.

Business Tips in Hindi 2. अपने Business के प्रति सदैव समर्पित रहे. व्यापार के प्रति समर्पित रहने से तात्पर्य ये है कि आप जिस भी व्यापार को करते है उसमे पूरी तरह से सुचिता रखे. हमेशा अपने व्यापर से सम्बंधित चीजो के साथ हमेशा अपडेट रहे और कुछ नया करने का प्रयास जरूर करे लेकिन गैर जरुरी प्रयोगों से बचे. अपनी सोच को विस्तृत रखे. अपने व्यापार से संबधित market tips की ज्यादा से ज्यादा नॉलेज बनायें.

Tips 3. अनुशासन बनाये रखें (एक तीर से से दो निशाने)

व्यापार कोई भी हो यदि अनुशासन नहीं तो आप को बहुत सी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए Business में अनुशासन बनाये रखने का सबसे अच्छा तरीका ये है की खुद को salary दें. इससे आपको बहुत सारे फायदे रहेंगे. आपका व्यर्थ के खर्चों पर लगाम लगेगी और आपके साथ काम करने वाले आपके कर्मचारी या सहयोगी पर इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा.

Tips 4 : अपने  ग्राहक को  उम्मीद  से  ज्यादा  दीजिये :

अपने ग्राहक की जरूरतों का ख्याल रखे. ग्राहक जो मांग रहा है उसे वही दे ग्राहक को ज्यादा भ्रमित करने का प्रयास कतई ना करे. ग्राहक से वही वायदे करे जिन्हें आप पूरा कर सकते हो जैसे कि किसी वास्तु की गारंटी – वारंटी. अपनी गलतियों को स्वीकारे साथ ही ग्राहक से बेवजह बात भी न करे अन्यथा ग्राहक पर नकारात्मक प्रभाव भी पड सकता है. ग्राहकों को संतुष्ट रखिए और उनके साथ अच्छा व्यवहार कीजिए ताकि वे आपके Permanent ग्राहक बन जाएँ. भूलकर भी किसी ग्राहक को मत ठगिये क्योंकि किसी को ठगकर एक बार पैसा कमाया जा सकता है लेकिन फिर आप उसे हमेशा के लिए खो देंगे.

Tips 5. Business के लिए अलग से रखे emergency fund

अपने व्यापर को विस्तार देने के लिए हमेशा कुछ न कुछ पैसा अलग जमा कर रखे ताकि आवश्यकता पड़ने पर आप उन पैसो का उपयोग कर सके. यदि आप ऐसा नहीं करते है तो जरुरत पड़ने पर आपको अपनी बचत का पैसा खर्च करना पड़ सकता है जो आपने किसी और काम के लिए बचा रखा हो. इसलिए हमेशा कुछ पैसा व्यापार के लिए अलग से बचा के रखना चाहिए.

Tip 6 : सभी तरह के जोखिम के लिए उचित बीमा कवर ले

किसी भी व्यापार के दो पहलु होते है एक लाभ और दूसरा हानि. प्रत्येक व्यवसायी लाभ के लिए ही व्यापार करता है. लेकिन कभी कभी कुछ दुर्घटनाएं घट जाती है जिसकी वजह से आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है जैसे की
आग-चोरी, कर्मचारियों के विश्वासघात आदि| यदि आपको कुछ हुआ हो तो लेनदारो के जोखिम को भी मैनेज करने की जरुरत होती हैं। इन सभी जोखिमो को बीमा कंपनी पर transfer करना चाहिए और जहाँ लेनदारो का जोखिम हो वह जीवन बीमा पालिसी “married woman property act” के तहत खरीदनी चाहिए, इससे बीमा claim की राशि पर जीवन-साथी और बच्चों के अलावा कोई अन्य दावा नहीं कर सकेगा। परिवार के लिए उचित बीमा कवर ले इससे आपात स्थिति आने पर business वितीय रूप से प्रभवित नहीं होगा।

Tip 7. कर्मचारियों को खुश रखे

अगर आपका व्यापार बड़ा है और आपके पास 1 से ज्यादा कर्मचारी है तो उन्हें हमेशा खुश रखे. उनको त्यौहार या खास मौकों पर प्रोत्साहित करना, उसकी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए उसकी मदद करना तथा अच्छा काम करने पर बोनस भी दे. ऐसा करने से आपका अपने कर्मचारी से अच्छा सम्बन्ध हो जाता है और वो आपके लिए मन लगा के काम भी करता है जिसका फायदा भी आप को मिलेगा.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY